सहेली समिति

सहेली समिति धौलपुर जिले की ग्रामीण गरीब महिलाओं को आजीविका से जोडकर उनका विकास करना व सामाजिक न्याय, समता एवं महिलाओं के अधिकारों को प्रोत्साहन देने के लिये प्रतिबद्व है। सहेली समिति, ग्रामीण महिलाओं को जागरूक कर लघु बचत पर आधारित स्वंय सहायता समूहों का गठन कर आर्थिक व सामाजिक शोषण से मुक्ति दिलाना।

ग्रामीण एवं आर्थिक रूप से कमजोर परिवार की महिलाओं स्वंय सहायता समूह के माध्यम से महिलाओं का सशक्तिकरण, पशुओ के बारे मे प्रशिक्षण देकर पशुओ का बेहतर स्वास्थ्य, सरकार की अन्य योजनाओं की जानकारी लेकर उसका बेहतर तरीेके से लाभ लेना। आजीविका संवर्धन कर उनका गरीबी उन्मूलन करना।

योजना

ग्रामीण महिलाओँ के लघु बचत पर आधारित स्वंय सहायता समूहों का गठन कर आर्थिक व सामाजिक शोषण से मुक्ति दिलाना। नये स्वयं सहायता समूहों का गठन कर गरीबी उन्मूलन के लिये आवश्यकतानुसार कार्यो की योजना बना कर क्रियान्वित करना। और

प्रबंध

सहेली समिति राजस्थान के 6 जिले धौलपुर, उदयपुर, चित्तोडगढ, राजसमन्द एवं अजमेर जिले मे कार्य कर रही है। धौलपुर जिला जो कि उत्तर दिषा मे पार्वती नदी व दक्षिण दिषा मे चम्बल नदी के बीच मे बसा एक छोटा जिला है। धौलपुर जिले से दक्षिण दिषा मे 4 किमी की दूरी पर चम्बल नदी हैऔर

विकास

सहेली समिति धौलपुर जिले मे धौलपुर, बाडी, सरमथुरा (बसेडी) ब्लॉक के गॉवों मे महिलाओ का समूह बना कर उनको समूह की सदस्यता का प्रशिक्षण दिला कर आजीविका से जोडने का प्रयास करना एवं सरकार की योजनाओं की जानकारी देकर उनको सरकार की योजनाओं से लाभ दिलवाना । और

सहेली समिति, धौलपुर

सबकी उन्नति , सामूहिक शक्ति

ग्रामीण क्षेत्र मे शासन की सहभागिता सम्पूर्ण हो, पारदर्शिता हो, और शासक शासितों के प्रति उत्तरदायी बने। विकास के लक्ष्यों को पूरा करने के लिये हम एक दूसरे की मदद करें। विकास के लक्ष्यों को हासिल करने के लिये साक्षरता मे वृद्धि, बाल विवाह, मातृ मृत्यु दर, मातृत्व मृत्युदर व गरीबी उन्मूलन व बेरोजगारी दूर हो एवं कन्या भ्रूण हत्या पूरी तरह बन्द हो एवं लडका लडकी मे भेद भाव बन्द हो। इसमे सहेली समिति, फेडरेशन की भूमिका जितनी महत्वपूर्ण है उतनी ही शासन की भूमिका व व्यवस्थान महत्वपूर्ण है।
सहेली , द्वारा राजस्थान के धौलपुर जिले के 302 गॉव मे समग्र विकास के लिये जो कार्य किये जा रहे है।
सहेली समिति के कार्यकर्ताओं की कडी मेहनत व लगन के कारण सहेली फेडरेशन प्रभावी कार्य कर सकी।
मै संस्था के उज्जवल भविष्य की कामना करती हूँ।
कमलेश, अध्यक्ष

सहेली समिति के विवध रूप

हमारे भागीदार